महाविद्यालय में तीन संकायों में पाठ्यक्रम उपलब्ध हैं।

स्नातक स्तर पर कला, वाणिज्य एवं विज्ञान तीनों संकायों में अध्यापन होता है। सभी संकायों में उपलब्ध विषय क्रमशःनिम्नानुसार हैं :-

1. कला (त्रिवर्षीय पाठ्यक्रम)

                   हिन्दी साहित्य

                   अंग्रेजी साहित्य

                   राजनीति विज्ञान

                   समाजशास्त्र

                   अर्थशास्त्र

                   इतिहास

कला संकाय में तीनों कक्षाओं में विषय समान होंगे।


2. वाणिज्य (त्रिवर्षीय पाठ्यक्रम)

                   वाणिज्य संकाय में विश्वविद्यालय द्वारा सभी विषय अनिवार्य किये गये हैं।


3. विज्ञान संकाय (त्रिवर्षीय पाठ्यक्रम)

          विद्यार्थियों को दो विषय समूहों में से चयन का विकल्प उपलब्ध हैः-

                   जीवविज्ञान समूह (जन्तु विज्ञान, वनस्पति विज्ञान, रसायन विज्ञान)

                   गणित समूह (गणित, भौतिक विज्ञान, रसायन विज्ञान)


उपरोक्त वैकल्पिक विषयों के अतिरिक्त तीनों संकायों के सभी कक्षाओं में आधार पाठ्यक्रम अनिवार्य विषय के रूप में पढ़ाया जाता है।

तीनों संकायों के पहले वर्ष में पर्यावरण अध्ययन में उत्तीर्ण होना अनिवार्य है, पर परिणामों के लिए इसके अंकों की गणना नहीं की जाती है।